khabre

शुक्रवार, 21 मई 2010

दुनिया में सबसे खतरनाक और जहरीला भी एक जंतु हैं ............. अगर आप नही समझ पाए तो देखो फिर .


जब भगवान ने ये दुनिया बनायी तो उन्होंने  
अलग - अलग सोच और करतब वाले जीव पैदा किये.
मसलन  चींटी जैसे छोटे से जीव को अगर
 शरीर छोटा दिया तो उसको काटने की जबरदस्त शक्ति दी.
और हाथी जैसे बड़े जानवर को भी
 चींटी से बचना पड़ता हैं .
किसी को झुण्ड में रहने का सलीका, 
दिमाग में सोच के रूप 
में दिया तो शेर जैसे शक्तिशाली 
जानवर को मजबूत पंजे और शक्ति देकर
 जंगल पे राज करने के लिए छोड़ दिया .

अब हर जीव को अपने बचाव
 के लिए कुछ ना कुछ दिया हैं .
सांप को जहर और डसने के लिए फन दिया
 तो बिछू को डंक मारने के लिए पूँछ दी हैं.

लेकिन इन सबसे अलग भी एक जीव हैं
 जो इन सबसे ज्यादा 
खतरनाक हैं और वो हैं "इंसान."


और ये एक ऐसा जंतु हैं की जिसके बारे
 में कोई भी अंदाजा  नही लगा  
 सकता की ये कहा पे  काटेगा.
ना तो इसके पास सांप वाला फन
 हैं और ना ही बिच्छू वाली पूँछ .
ना इसके बड़े बड़े पंजे हैं 
और ना ही खतरनाक दांत.
देखने में भी इसके जैसा कोई नही हैं.

" और ये एक ऐसा जीव हैं जिसके बारे
 में  कोई नही बता सकता की ये किसको
 काटेगा, कब काटेगा और कहा से काटेगा .
क्योंकि ये मुह से नही काटता ."

"लेकिन इसकी रग -रग में जहर भरा हुआ हैं 
 और सबसे बड़ी बात ये हैं की ये सिर्फ
 उनको ही हानि पहुंचाता हैं
 जो इसके ज्यादा  करीब होते हैं ."

इस जंतु को आगे भी अनेक
 श्रेणियों में बांटा जा सकता हैं .
कुछ धार्मिक प्रवृति के होते हैं जो
 काट भी ले तो इतना  नुकशान नही होता .
कुछ भयंकर प्रवृति
 के होते हैं जो छोटी  सी
 बात को मुद्दा बनाकर कत्लेआम करवा
 देते हैं .ये धार्मिक प्रवृति का बिगड़ा 
हुआ रूप होते हैं जो धर्म के प्रति इतने
 ज्यादा कठोर  हो जाते  हैं की उन्हें 
ना तो कोई दूसरा धरम दिखाई देता हैं
 और ना ही वो ये समझ पाते हैं की 
उनकी इस सोच से किस किस को नुक्सान हो रहा हैं.

कुछ ऐसे हैं जिनको अपनी खुशी से
 कोई मतलब नही पर उनका लक्ष्य ये
 होता हैं की उनके आसपास
 के दूसरे लोग खुश ना रह सके .

और इनसब जन्तुओ में भी एक बहुत 
ही गिरी हुई और बहुत चालाक, धोखेबाज,
 मतलाबी, अधिक और
 बिना मतलब बोलने
 वाली प्रवृति के जन्तुओ की श्रेणी भी हैं जो बिना किसी
 वजह के सिर्फ अपने मतलब और शौक के
 लिए दूसरो के रिस्तो, नातो,भावनाओं औ
 यहाँ तक की दूसरो के विश्वाश के साथ भी 
खिलवाड़ करते हैं और इस श्रेणी के जन्तुओ में
 सबसे खतरनाक
 माने जाते हैं .

वो हैं हमारे नेतागण



आप कुछ कहना चाहते हो ?
तो कहो न.

5 टिप्‍पणियां:

  1. क्या कहे सारी बाते तो आपने बता दी, इंसां होकर भी इंसां से और ज्यादा डरने लगा हूँ आपकी पोस्ट पढने के बाद :>)

    उत्तर देंहटाएं
  2. डरने की जरुरत नही हैं भाई हम तो भाई भाई हैं ना

    उत्तर देंहटाएं
  3. इसके (इंसान )काटे का तोड़ भी ढूंढना पडेगा, कुछ इसी के जहर से बने इंजेक्शन की तरह !

    उत्तर देंहटाएं
  4. मिल जाये तो मुझे भी बताना गोदियाल साहब

    उत्तर देंहटाएं
  5. सच है. इन्सान से ज़्यादा ज़हरीला, खतरनाक और शातिर तो कोई हो ही नहीं सकता. बढिया पोस्ट.

    उत्तर देंहटाएं